NRC Full Form in Hindi – एनआरसी (NRC) का फुल फॉर्म क्या होता है

NRC Full Form in Hindi – एनआरसी (NRC) का फुल फॉर्म क्या होता है

NRC Full Form in Hindi : NRC का नाम आप सभी ने तो कही ना कही अवश्य सुने ही होंगे, लेकिन कुछ लोगो तो NRC सिर्फ नाम जानते है लेकिन इसके बारे मे लोगो को NRC Full Form in Hindi का मतलब नहीं पता होता है और न हे उनको NRC की सही जानकारी होती है।

ऐसे मे कोई आपसे NRC क्या है? NRC Full Form क्या होता है? ये सब आपसे पूछ लेते है तो आप जवाब देने मे घबरा जाते है, उनको सही जवाब नहीं दे पाते है, तो ऐसे मे हमारे द्वारा नीचे NRC से जुडी जानकारी दी जा रही है जिसको आप अच्छे तरीके से पढ़कर जानकारी प्राप्त कर सकते है।

NRC को National Register of Citizens कहते है, NRC को असम मे रह रहे भारत के नागरिकों की पहचान के रूप मे प्रणाम पत्र जारी किया गया था। सिर्फ असम मे ही NRC लागू किया गया था क्योंकि असम मे रह रहे लोगो को NRC रजिस्टर मे नाम 25 मार्च 1971 को चढ़ा दिया था क्योंकि उनके जो पूर्वज दादा -दादी वहां पर पहले से ही असम राज्य मे रह रहे थे

इसलिए उनका नाम NRC रजिस्टर मे चढ़ा दिया गया था। NRC सरकार द्वारा हमारे भारत देश मे लागू किया गया ताकि जितने भी लोग भारत रह रहे है, उनका नाम NRC लिस्ट मे जोड़ दिया जाये ताकि पता चल सके कि वह भारत के नागरिक है।

यह भी जाने

NRC full form in English

1. NRC full form in English – National Register of Citizens

NRC full form in Hindi

NRC Full Form in Hindi
NRC Full Form in Hindi

2. NRC full form in hindi – भारतीय राष्ट्रीय नागरिक होता है।

What is NRC? – NRC क्या है

What is NRC – भारत सरकार ने NRC सन 1986 में सिटीजनशिप एक्ट में संशोधन करके असम के लिए विशेषकर सुविधा प्रदान किया गया था। इसमें सिर्फ उन्ही व्यक्तियों को NRC रजिस्टर में शामिल किया जायेगा जो व्यक्ति असम में 12 वर्ष से रहते रहे होंगे, यानी कह सकते है की सन 1771 से पहले जो व्यक्ति असम मे रहते रहे होंगे उनको ही असम का नागरिक माना जायेगा।

यदि कोई बाहर से आकर असम मे रहने के लिए आएगा तो ऐसे मे उन व्यक्तियो का पहचान के तौर पर NRC (National Register of Citizens) प्रमाण पत्र मागा जायेगा यदि उनके पास नहीं है,

तो यह बात क्लियर हो जाएगी कि वह असम के रहने वाले नागरिक नहीं है, वह किसी अन्य देश से रहने के लिए आये हुए है इसलिए NRC असम लागू किया क्योंकि असम ज्यादातर लोग अन्य राज्यों से रहने के लिए आते थे।

यह भी जाने

NRC के लिए कुछ जरूरी दस्तावेज

NRC (National Register of Citizens) मे यदि आप अपना नाम रजिस्टर करवाना चाहते है, तो कुछ जरूरी कागजात की जरूरत पड़ती है तभी आपका नाम NRC मे रजिस्टर होता है।

  • जाति प्रमाण पत्र
  • लाइसेंस
  • बैंक अकाउंट नंबर
  • आधार कार्ड
  • पासवर्ड साइज 1फोटो
  • एलआईसी पॉलिसी
  • जमीन के कागजात
  • न्यायालय से जारी किये डॉक्यूमेंट

NRC भारत मे क्यों जरूरी होता है

हम सबका भारत देश पहले बहुत बड़ा हुआ करता था,कुछ वजह से अब भारत का बटवारा हो गया है जिस वजह से अब हमारा देश दो भागो मे बाँट गया है। हिंदुस्तान और पाकिस्तान हो दो भाग मे हो गया है जिसमे से कुछ व्यक्ति हिंदुस्तान मे रह रहे है, और कुछ लोग पाकिस्तान मे रहने के लिए चले गए है।

ऐसे मे कुछ व्यक्ति ज़ब पाकिस्तान जा रहे थे उन्होंने अपना कुछ जरूरत का सामान भारत मे ही छोड़ गए थे जिस कारण से वह भारत आने की सोचते है अपनी सम्पति लेने के लिए आते है लेकिन उनको पाकिस्तान का बॉडर क्रॉस करने की अनुमति नहीं है क्योंकि वह अब अन्य देश के नागरिक हुए लेकिन कुछ लोग जबरजस्ती भारत मे घुसने की कोशिश करते है।

इसी वजह से भारत सरकार द्वारा NRC (National Register of Citizens) भारत मे लागू किया गया है कि जो व्यक्ति भारत के नागरिक होंगे उनका नाम NRC लिस्ट मे नाम दर्ज होगा। और जो व्यक्ति पाकिस्तान से आकर हमारे भारत मे रहने की कोशिश करेंगे वह पकडे जायेगे इसके अलावा कुछ पाकिस्तान के लोग हमारे भारत देश से चिढ़ते है

क्योंकि भारत मे हर एक चीज़ की सुविधा उपलब्ध होती है। इसीलिए वह भारत को नुकसान पहुंचाने के लिए आते है और बम ब्लॉस्ट करने की साजिश करते है, इसलिए NRC सर्टिफिकेट के जरिये हम उन आतंकवादियो को पकड़ सकते है इसलिए National Register of Citizens (NRC) भारत मे लागू किया।

NRC से जुडी कुछ महत्वपूर्ण घटनाये

1. सन 1951 मे असम मे पहली बार National Register of Citizens (NRC) लागू किया गया था।

2. सन 1971 मे बंगलादेश के बहुत से लोग भारत देश आने की कोशिश किये, लेकिन सरकार द्वारा बनाई गई NRC नियम के तहत वह पकड़े गए उन पर सख्त कार्यवाही की गई।

3. 1971 के समय ही भारत और पाकिस्तान के मध्य लड़ाई हुयी और दोनों देश का अलग -अलग कर दिया गया।

4. असम मे कई राज्यों से 500000 लोग चोरी छुपे रहने के लिए आये थे, जिसकी वजह से असम मे बहुत सी समस्याए पैदा हो गई थी। अन्य राज्यों आये हुए लोग असम मे तंगी और उनका रहना मुश्किल कर दिए थे।

ऐसे मे National Register of Citizens (NRC) की लिस्ट के मुताबित पता चला कि वह लोग अन्य राज्यों आये हुए है, तभी उनको असम से बाहर निकालकर फेक दिया गया।

5. NRC प्रणाम पत्र के मुताबिक हमें यह पता चल जाता है कि कौन से लोग भारत के नागरिक है, और कौन से व्यक्ति भारत के नागरिक नहीं है जो व्यक्ति भारत नागरिक होंगे उनको सरकार तरह से सारी सुविधाएं दी जाएगी जो भारत नागरिक नहीं रहते है उनको किसी भी तरह की सुविधाएं नहीं दी जाएगी।

यह भी जाने

Conclusion

NRC Full Form : यदि अपने NRC (National Register of Citizens) मे अपना नाम रजिस्टर करवा लिया है तो आप भारत के नागरिक बन चुके है, तो आपको भारत से कोई भी निकाल नहीं सकता है आप पूरी तरह से संतुष्ट होकर अपना जीवन खुल कर जीये।

हमारे द्वारा NRC Full Form in Hindi के बारे मे दी गयी जानकारी से यदि आप सभी संतुष्ट है तो अपने रिलेटिव, दोस्त को हमारे द्वारा दी गई जानकारी को जरूर शेयर करे। ताकि जितने भी भारत मे रह रहे नागरिक उनको National Register of Citizens (NRC) के बारे अच्छे से जानकारी प्राप्त हो, और जिनको भारत के नागरिक होने के अधिकार नहीं मिले हो वह भारत का नागरिक होने के नाते अपने हक़ के लिए आवाज़ उठा सके।

Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Newest
Oldest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Vipin
Vipin
6 days ago

Very good

1
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x