MBBS Kaise Kare in Hindi । 12वीं के बाद MBBS डॉक्टर कैसे बने

MBBS Kaise Kare in Hindi (12वीं के बाद MBBS डॉक्टर कैसे बने):- आज का युवा जब अपने कैरियर के बारे में प्लानिंग करता है तो उसके दिमाग में जो क्षेत्र सबसे पहले आता है वह है चिकित्सा का क्षेत्र। वह बचपन से ही सफ़ेद कोट पहने डॉक्टरों को समाज में पैसा और इज्जत दोनों ही हासिल करते हुये देखता है तो उसे यह क्षेत्र सबसे ज्यादा आकर्षित करता है।

तो आइये जानते हैं कि MBBS doctor बनने (MBBS Kaise Kare in Hindi) के लिए उसके पास कौन कौन से विकल्प (Options) होते हैं और किस विकल्प के लिए क्या करना होता है।

Some Tag

MBBS Kaise Kare in Hindi । MBBS doctor Kaise bane। How to Prepare for NEET exam। mbbs doctor salary in india। NEET doctor Salary । MBBS course Details in Hindi । mbbs full form । mbbs college in india । mbbs doctor kaise bante hai । mbbs course fees । mbbs course duration

MBBS Course Details in Hindi: Overview

Course Name MBBS
Full-FormBachelor of Medician and Bachelor of Surgery
FeesINR 8 – 20 lakh
Course Duration4-5 years
SalaryINR 45000/- per month
Eligibilityकिसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा में कम से कम 50% अंकों के साथ पास
Minimum Age 17 years
Total Seatsलगभग 83125 सीट
Entrance ExamNEET Exam
Level of ExamAll India Exam
Websiteक्लिक हियर
MBBS Kaise Kare in Hindi

युवाओं की पहली पसंद है एमबीबीएस (MBBS)

जब एक युवा डॉक्टर (Doctor) बनने के बारे में सोचता है तो उसके दिमाग में जो कोर्स सबसे पहले आता है वह है एमबीबीएस (MBBS) तो आइए जानते हैं कि एक एमबीबीएस (MBBS) डॉक्टर (Doctor) बनने (MBBS Kaise Kare in Hindi) के लिए क्या करना होता है,

यह कितने साल का कोर्स (Duration of Course) होता है, इसलिए लिए जरूरी योग्यता क्या होती है, कौन सी परीक्षा पास करनी होती है, इसका सिलेबस क्या होता है, इसकी तैयारी कैसे की जाती है और एक एमबीबीएस (MBBS) डॉक्टर (Doctor) बनने के बाद कमाई का जरिया क्या होता है।

MBBS Full Form

MBBS Full-Form in English: एमबीबीएस का पूरा नाम इंग्लिश में Bachelor of Medician and Bachelor of Surgery कहते है

MBBS Full-Form in Hindi: एमबीबीएस का हिन्दी में अर्थ या पूरा नाम आयुर्विज्ञान तथा शल्य- विज्ञान स्नातक कहते है

एमबीबीएस (MBBS) में दाखिले के लिए जरूरी है नीट (NEET)

बहुत से युवाओं का सपना एक सफल डॉक्टर (Doctor) बनना होता है। लेकिन यह हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि सपना जितना बड़ा होता है उसको पूरा करने के लिए उतनी ही अधिक मेहनत और धैर्य की जरूरत भी होती है।

एमबीबीएस (MBBS) के कोर्स में दाखिला (Admission) लेने के लिए सबसे पहले आपको एक मेडिकल एंटरेंस एक्जाम (Medical Entrance Examination) पास करना होता है जिसे नीट (NEET), यानी नेशनल एंटरेंस एकजामिनेशन टेस्ट (National Entrance Examination Test) के नाम से जाना जाता है।

इसके अलावा इंडिया में एमबीबीएस में एड्मिशन लेने के लिए और भी Entrance Exams Conducts कराये जाते है इन Entrance Exam में अच्छी रैंक लाने वालो को India के Top MBBS College in India में एड्मिशन मिल जाता जाता है।

  • AIIMS (All India Institute Medical Science) Entrance Exam
  • JIMPER Entrance Exam
  • PGIMER Entrance Exam
  • FET (Fellowship Entrance Test)

NTA Official WebsiteClick Here
NEET Entrance ExamClick Here
AIIMS Entrance ExamClick Here
HomeClick Here
MBBS admission process

उपरोक्त सभी Entrance Exam National Level पर conduct कराये जाते है।

एमबीबीएस (MBBS) में दाखिले के लिए जरूरी है पीसीबी (PCB)

अगर आपका सपना एक एमबीबीएस (MBBS) डॉक्टर (Doctor) बनना है तो इसके लिए आपको 10वीं परीक्षा पास करने के बाद 11वीं में प्रवेश लेते समय फिजिक्स (Physics), केमेस्ट्री (Chemistry) और बायोलॉजी (Biology) विषय चुनना अनिवार्य होता है। साथ ही, नीट परीक्षा में शामिल होने के लिए 12वीं कक्षा कम से कम 50% अंकों के साथ पास करना भी जरूरी होता है।

जब आप नीट परीक्षा क्लियर कर लेते हैं तो आपको एमबीबीएस के मेडिकल कॉलेज में दाखिला मिलता है। यह पूरा कोर्स 5 साल और 6 माह का होता है, जिसमें 4 साल और 6 महीने पढ़ाई करनी होती है और एक साल (one year) की इंटर्नशिप (Internship) करनी होती है।

इसके बाद आपको नेशनल मेडिकल कमीशन (National Medical Commission) के नेशनल रजिस्टर और अपने राज्य के राज्य रजिस्टर में रजिस्ट्रेशन कराना होता है। रजिस्ट्रेशन हो जाने के बाद आप एक एमबीबीएस (MBBS) डॉक्टर (Doctor) बन जाते हैं।

एमबीबीएस में दाखिले के लिए कैसे करें तैयारी (How to Prepare for Medical Entrance Exam)

How to Prepare for Medical Entrance Exam: अगर आपने एक एक एमबीबीएस (MBBS) डॉक्टर (Doctor) बनने का फैसला कर लिया है तो इसके लिए आपको 9वीं कक्षा से ही विज्ञान और अंग्रेजी विषयों पर विशेष ध्यान देना शुरू कर देना चाहिए।

11वीं कक्षा में आपको पीसीबी (PCB) यानी फिजिक्स (Physics), केमेस्ट्री (Chemistry) और बायोलॉजी (Biology) विषय चुनना अनिवार्य होता है। यहाँ पर भी आपको बायोलॉजी (Biology) और अंग्रेजी (English) पर विशेष ध्यान देना होता है।

12वीं कक्षा कम से कम 50% अंकों के साथ पास करके आप नीट परीक्षा में शामिल होने के लिए पात्र हो जाते हैं। आपको नीट (NEET) की तैयारी 10वीं पास करते ही करना शुरू कर देना चाहिए। इसके लिए फिजिक्स (Physics), केमेस्ट्री (Chemistry) और बायोलॉजी (Biology) विषयों पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

क्या होता है नीट (NEET) एक्जाम का पैटर्न (How to Prepare for NEET)

How to Prepare for NEET: नीट (National Entrance Examination Test) एक्जाम तीन घंटे का होता है। इस परीक्षा (NEET Exam) में शामिल होने के लिए आपकी उम्र 17-25 वर्ष के बीच में होना चाहिए। तथा OBC, SC, ST के लिए 5 वर्ष की छूट प्रदान की गयी है

आप इस परीक्षा (NEET Exam) के लिए हिंदी, अंग्रेजी, असमिया, बंगला, गुजराती, मराठी, तमिल, टेलगु, उड़िया, कन्नड और उर्दू भाषाओं में से कोई एक भाषा चुन सकते हैं।

इस परीक्षा (NEET Exam) में फिजिक्स (Physics), केमेस्ट्री (Chemistry), बॉटनी (Botany), जूलोजी (Zoology) विषयों इंटरमिडिएट के पाठ्यक्रम के स्तर से बहुविकल्पीय प्रश्न पूंछे जाते हैं।

कुल प्रश्नपत्र 720 अंकों का होता है। हर सही उत्तर के लिए आपको 4 अंक मिलते हैं और हर गलत उत्तर के लिए 1 अंक काट लिया जाता है। जो प्रश्न हल नहीं किए जाते, उनके लिए कोई अंक नहीं दिया जाता है।

इसलिए आपके लिए उचित यही है कि केवल उन्हीं प्रश्नों को हल करें जिनके उत्तर आपको आते हों। अन्यथा प्रश्न छोड़ देना चाहिए।

कैसे मिलता है प्रवेश मेडिकल कॉलेज में (Admission Process for MBBS after NEET)

नीट (NEET) एक्जाम क्लियर करने के बाद (Admission Process for MBBS after NEET), आपको नेशनल मेडिकल कमीशन (National Medical Commission) द्वारा तय की गई एजेंसी द्वारा आयोजित काउंसिलिंग में भाग लेना होता है।

काउंसिलिंग के दौरान नीट एक्जाम में आपकी रैंक के अनुसार मेडिकल कॉलेज आवंटित किया जाता है। यदि आपकी रैंक अधिक है तो आपको सरकारी मेडिकल कॉलेज में दाखिला मिल सकता है जिनकी फीस प्राइवेट कॉलेजों की तुलना में बहुत कम होती है।

सरकारी कॉलेजों (Government College) की फीस जहां 6 हजार से 50 हज़ार सालाना होती है वहीं प्राइवेट कॉलेजों (Private College) की सालाना फीस 10 से 20 लाख रुपये तक होती है।

क्या करें एमबीबीएस करने के बाद (Career after MBBS in India)  

MBBS Kaise Kare in Hindi
MBBS Kaise Kare in Hindi

Career after MBBS in India: एमबीबीएस (MBBS) कोर्स करने के बाद आपके पास सरकारी अस्पतालों, निजी अस्पतालों में नौकरी करने के अलावा निजी प्रैक्टिस करने के विकल्प खुल जाते हैं।

सरकारी अस्पतालों (Government Hospital) में शुरुआती वेतन 40-50 हजार होता है जो समय समय पर बढ़ता रहता है। निजी अस्पतालों में भी लगभग इतना ही वेतन मिल जाता है।

निजी प्रैक्टिस शुरू करने के पहले आपके लिए यही उचित होगा कि 2-3 साल किसी सरकारी या निजी अस्पताल में नौकरी करके अनुभव प्राप्त कर लें, उसके बाद ही निजी प्रैक्टिस के लिए सोचें। निजी प्रैक्टिस में आय असीमित होती है  लेकिन उसके लिए समय और अनुभव दोनों जरूरी होते हैं।

Top MBBS College in India

Top MBBS College in India: यह पर हम आप सभी स्टूडेंट की भारत के Top MBBS College in India बताने जा रहा हूँ इनकी जानकारी आपको जरूर होनी चाहिए। यदि आप इन कॉलेज से MBBS ka Course करते है तो कोर्स पूरा करते ही आपको अच्छी जॉब्स आसानी से मिल जाती है

AIIMS Delhi – All India Institute of Medical Sciences, New Delhi

CMC Vellore – Christian Mediacal College, Tamil Nadu

KMC Mangalore – Kasturba Medical College, Karnataka

King George’s Medical University, Uttar Pradesh

Jawaharlal Institute of Postgraduate Medical Education and Research

Madras Medical College, Tamil Nadu

University College of Medical Sciences, Delhi

Vardhman Mahavir Medical College, New Delhi

Sri Ramachandra Institute of Higher Education and Research

St. John’s Medical College, Karnataka

Cardiothoracic and Neurosciences Centre AIIMS

Lady Hardinge Medical College, New Delhi

Dayanand Medical College, Ludhiana, Panjab

Medical College Kolkata, West Bengal

Post Graduate Institute of Medical College & Research, Chandigarh

JSS Medical College, Karnataka

Armed Forces Medical College, Pune

AMU – Aligarh Muslim University, Aligarh, Uttar Pradesh

Maulana Azad Medical College, New Delhi

BHU – Banaras Hindu University, Uttar Pradesh

Sawai Man Singh Medical College, Jaipur, Rajasthan

National Institute of Mental Health & Neuro Sciences, Bengaluru, Karnataka

Institute of Liver and Biliary Sciences, New Delhi

Grant Medical College, Mumbai

Sanjay Gandhi Postgraduate Institute of Medical Sciences

PSG Institute of Medical Sciences & Research, Coimbatore, Tamil Nadu

Jamia Hamdard University, New Delhi

Government Medical College & Hospital, Chandigarh

BMCRI – Bangalore Medical College and Research Institute, Karnataka

Siksha ‘O’ Anusandhan (Deemed to be University), Bhubaneswar, Odisha

King Edward Memorial Hospital and Seth Gordhandas Sunderdas Medical College, Mumbai, Maharashtra

Dr. D. Y. Patil Vidyapeeth, Pune, Maharashtra

IPGME&R and SSKM Hospital, Kolkata, W.B.

FAQ (Frequently Asked Questions)

निष्कर्ष (Conclusion)

MBBS Kaise Kare in Hindi: उम्मीद है कि आपको यह लेख एमबीबीएस (MBBS) कोर्स के बारे में (MBBS Kaise Kare in Hindi) सभी जरूरी जानकारी प्रदान करने वाला है जो आपको जरूर पसंद आया होगा।

अगर आपको MBBS Kaise Kare in Hindi लेख पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों को शेयर करना न भूलें। साथ ही, इसमें जरूरी सुझाव क्या है और अपने फीडबैक से हमें जरूर अवगत कराएं। धन्यवाद।

1 thought on “MBBS Kaise Kare in Hindi । 12वीं के बाद MBBS डॉक्टर कैसे बने”

Leave a Comment