Career in Information Technology – IT में करियर कैसे बनाए

Table of Contents

Career in Information Technology – IT में करियर कैसे बनाए

Career in Information Technology (IT में करियर कैसे बनाए) – गत 20-25 वर्षों के कंप्यूटर युग में पूरी दुनियाँ में व्यापक बदलाव आए हैं।  1991 के बाद के वैश्विक उदारीकरण के दौर में भारत ने आर्थिक क्षेत्र में अभूतपूर्व कामयाबी हासिल की है।

आज भारत दुनिया की तीसरी बडी आर्थिक महाशक्ति बनने की ओर तेजी के साथ अग्रसर है। गत 20-25 वर्षों में, देश में उद्योग, शिक्षा, विदेशी व्यापार आधारभूत ढांचा, सभी जगह व्यापक बदलाव आया है जो आसानी से देखा जा सकता है।

यहाँ तक कि पाश्चात्य देशों का आधिपत्य माने जाने वाले क्षेत्र सूचना प्रौद्योगिकी (information technology) में भी भारत अग्रणी है। भारत के IT विशेषज्ञों की मांग पूरी दुनियाँ में तेजी के साथ बढ़ रही है।

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, इन्फोसिस, विप्रो, टेक महिंद्रा, एचसीएल, सत्यम कंप्यूटर्स, एल एंड टी इंफोटेक, जेनपैक्ट, पाटनी, फ‌र्स्ट सोर्स सोल्यूशन जैसी कंपनियां आज आईटी क्रांति (Information Technology Revolution) के अग्रदूत बनकर पूरी दुनियाँ में अपना वर्चस्व स्थापित कर रहे हैं।

इसलिए Career की दृष्टि से Information Technolog (IT) क्षेत्र युवाओं के लिए रोजगार का सर्वश्रेष्ठ विकल्प बना हुआ है। यही कारण है कि सभी विद्यार्थी सबसे पहले IT ( Career in Information Technology ) क्षेत्र की ओर ही नज़र डालते हैं। यदि आप भी बेहतर कॅरियर की तलाश में हैं, तो आईटी जगत में प्रवेश करके भारी पैकेज हासिल कर सकते हैं।

आईटी सेक्टर क्या होता है – Kya Hota Hai IT Sector

Career in Information Technology
Career in Information Technology

What is Information Technology वे सभी चीजें जो वर्तमान में, Computer (कंप्यूटर), Software (सॉफ्टवेयर), नेटवर्किग, इंटरनेट, Websites, DataBase, TeliCommunication (टेलीकम्युनिकेशन) जैसे क्षेत्रों के साथ जुडी हैं, वे सब आईटी क्षेत्र के अंतर्गत आती हैं।

सॉफ्टवेयर के साथ हार्डवेयर टेक्नोलॉजी, Business Process Outsourcing (बीपीओ), Knowledge Process Outsourcing (KPO), Legal Process Outsourcing (एलपीओ), आईटी कंसलटेंसी, सॉफ्टवेयर टीचिंग, सॉफ्टवेयर परीक्षण एवं विकास, सिस्टम इंस्टॉलेशन, रिसर्च एंड डेवलपमेंट, सिस्टम एनालिसिस जैसे बहुत से क्षेत्रों में दक्षता प्राप्त कर Information Technology (IT) क्षेत्र में प्रवेश किया जा सकता है।

इन दिनों जॉब्स का तेजी से मशीनीकरण हो रहा है कि सरकारी और प्राइवेट सभी कार्यालय कम्प्यूटरीकृत (computerize) हो रहे हैं। आज का मानव छोटे से छोटे काम के लिए भी टेक्नोलॉजी पर निर्भर है।

आज तकनीकी ज्ञान (Technical Knowledge) के बिना Jobs के field में आप कहीं नहीं ठहरते। इस बदलते समय में Information Technology (IT) Sector में काम कर रहे Professionals के काम का दायरा भी बढा है। आज की तारीख में भारत वैश्विक रूप से IT Sectors का अग्रदूत माना जा रहा है।

कर्मचारियों की कडी मेहनत और प्रबंधकों की दमदार व्यापारिक रणनीति की के कारण बहुत सी प्रसिद्ध कंपनियाँ इस क्षेत्र में आज प्रगति के नए प्रतिमान स्थापित कर रही हैं।

See More Related Post

IT Sector in Relation to India (आईटी सैक्टर भारत के परिप्रेक्ष्य में)

भारत देश के विकास में आईटी क्षेत्र (Information Technology Sector) की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण क्षेत्र है। यह वह क्षेत्र है, जिसने देश की Agriculture (कृषि) आधारित Economy को ज्ञान आधारित अर्थव्यवस्था में परिवर्तित कर लोगों के जीवन स्तर में व्यापक परिवर्तन किया जिससे लोगों का जीवन पहले की अपेक्षा कहीं अधिक सुगम बन चुका है।

इस क्षेत्र के विकास की तेज गति का अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि 1994 में जहां IT सेक्टर से आने वाला राजस्व 63 अरब रुपये के आसपास था, तो वहीं आज यह 1276 अरब रुपये के ऊपर पहुंच चुका है।

नेस्कॉम की एक रिपोर्ट के अनुसार, इस सेक्टर की सालाना ग्रोथ (Annual Growth) 25 प्रतिशत दर्ज की गई है जिसके परिणामस्वरूप, लगभग 20 लाख लोग आज प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से इस क्षेत्र से जुड़े हुये हैं।

ऐसे में विशेषज्ञों की मानें तो आज आइटी सेक्टर में लगाया गया हर 1 रुपया भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को दो रुपये का फायदा देता है। ऐसे में इस क्षेत्र को भारतीय अर्थव्यवस्था का पावर बूस्टर कहा जाये तो अतिशयोक्ति नहीं होगी।

IT Engineering Admission Process (Eligibility)

IT Engineering Admission Process: यदि आपने 12 कक्षा फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथ्स के साथ उत्तीर्ण की है तो आईटी क्षेत्र से संबन्धित पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आप बीटेक (Bachelors of Technology) या बीसीए (Bachelor of computer application) कर सकते हैं। उच्च योग्यता हासिल करने के लिए आप एमसीए (master of computer application) भी कर सकते हैं।

आईआईटी (Indian Institute of Technology) सहित देश के सभी प्रमुख सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों और शिक्षा संस्थानों में इससे संबंधित पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं। आज के युग में प्रायः सभी कंपनियां आज प्रोफशनल डिग्री होल्डर्स (Professional Degree Holders) को ही  वरीयता देती हैं।

ऐसे में आपके लिए यह आवश्यक है कि 12वीं बाद IT Sectors में कम से कम स्नातक स्तर का कोर्स अवश्य पूरा करें। इसके अतिरिक्त, क्षेत्र में लोकप्रिय हो चुके Short Terms कोर्सों जैसे डीसीए, डी कैप, हार्डवेयर नेटवर्किग, ए लेवल, ओ लेवल, बी लेवल आदि के लिए आपको 12 वीं में किसी खास स्ट्रीम की जरूरत नहीं पडती है।

यदि आपने 12वीं कक्षा फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथ्स के साथ नहीं भी उत्तीर्ण की है तो भी इन शॉर्ट टर्म कोर्स करके भी आईटी क्षेत्र में प्रवेश कर सकते हैं। बाद में, अनुभव हासिल करने के बाद, उन्नति के मार्ग में डिग्री आड़े नहीं आती है।

Top Information Technology (IT) College in India

  • IIT Kanpur
  • IIT Madras
  • IIT Guwahati
  • IIT Bombay
  • IIT Delhi
  • Aligarh Muslim University
  • Lucknow University
  • Delhi University
  • VIT Vellore
  • Andhra University
  • MJPRU, Bareilly
  • Allahabad University
  • BHU, Uttar Pradesh
  • Jamia Islamia University, Delhi
  • Birla Institute of Technology Pilani
  • National Institute of Technology, Delhi
  • Delhi Technological University
  • National Institute of Technology, Delhi
  • National Institute of Technology, Rourkela
  • National Institute of Technology, Calicut
  • Manipal Institute of Technology, Manipal, Imphal

क्यों है IT कैरियर के लिए सर्वाधिक लोकप्रिय

Career in Information Technology
Source by Pixabay career in Information Technology

Information Technology (IT) सेक्टर में बढते मुनाफे के कारण जहां एक ओर पुरानी कंपनियों की ग्रोथ बढी, तो वही नई-नई आईटी कंपनियों ने भी बाजार में अपने कदम रखे। इस क्षेत्र की तेज रफ्तार को इस बात से समझा जा सकता है।

अंतरराष्ट्रीय मार्केट (International Market) में कुल आउटसोर्स वर्क का 51% भारत से ही निर्यात होता है, वहीं देश के कुल निर्यात में इसका हिस्सा करीब 75 प्रतिशत के आस पास है। ये सभी बातें एक ही ओर इशारा करती हैं कि इस विकासशील क्षेत्र में कैरियर अवसर (Career Opportunity) की कोई कमी नहीं है।

किन क्षेत्रों में बना सकते हैं कैरियर के अवसर

Information Technology (आईटी) क्षेत्र से डिग्री, डिप्लोमा व शॉर्ट टर्म कोर्स करने के बाद कैरियर के लिए अवसरों की कोई कमी नहीं है। आज देश के हर छोटे बडे संस्थान का कंप्यूटरीकरण हो चुका है। स्वाभाविक है कि इनके इंस्टॉलेशन से लेकर, तकनीकी खराबियां (Technical Defects) दूर करने, नए सॉफ्टवेयर अपलोड करने तक में आईटी प्रोफेशनल्स की बडी भूमिका होती है।

यही नहीं, देश की तमाम सॉफ्टवेयर कंपनियां (Software Companies) भी इस क्षेत्र के उच्च योग्यता प्राप्त युवाओं को विशेषज्ञ प्रोफेशनल के रूप में नियुक्त कर रही हैं। यदि आप सिस्टम इंस्टॉलेशन, सिस्टम एनालिसिस, नेटवर्किंग, हार्डवेयर रिपेयरिंग जैसे कामों में दक्षता हासिल कर लेते हैं तो इस क्षेत्र में अपना खुद का काम भी शुरू कर सकते हैं।

IT Sectors में कौन कौन से पद कर सकते हैं हासिल

देश की तमाम आईटी कंपनियों (Information Technology Companies) में इन दिनों देश में ही इतने अवसर उपलब्ध हैं कि आपको नौकरी के लिए विदेश जाने की जरूरत नहीं है। आईटी क्षेत्र में तो आज रिवर्स ब्रेन ड्रेन का चलन ज़ोरों पर है।

वर्षों से विदेशों में कार्यरत लोग भारत आकर अपने स्वयं का व्यवसाय स्थापित कर रहे हैं। देश में हैदराबाद (Hyderabad), मुंबई (Mumbai), बंगलौर (Bangalore), पुणे (Pune), चेन्नई (Chennai), दिल्ली एनसीआर  भारत ही नहीं पूरी दुनिया के लिए आईटी के नए केंद्र साबित हो रहे हैं।

इन आईटी केन्द्रों में Software Technician (सॉफ्टवेयर टेक्नीशियन), Software Tester (सॉफ्टवेयर टेस्टर), Software Designer (सॉफ्टवेयर डिजाइनर), Windows System Engineer (विंडो सिस्टम इंजीनियर), Java Software Devloper (जावा सॉफ्टवेयर डेवलेपर), Net Programmer (नेट प्रोग्रामर), वर्कफ्लो इंटीग्रेशन स्पेशलिस्ट के तौर पर काम किया जा सकता है।

विदेशों में भी हैं जॉब्स के अपार अवसर

आईटी प्रोफेशनल्स की विदेश में सबसे अधिक मांग है। यही कारण है कि इससे संबंधित प्रोफेशनल्स की नियुक्त भारी पैकेज के साथ होती है। आज उन विदेशी कंपनियों (Foreign Companies) की कमी नहीं है, जो प्रोफशनल क्षमताओं व डिग्रियों से लैस भारतीय पेशेवरों को हाथों हाथ लेती हैं।

विदेशों में जिन प्रमुख पदों पर आईटी प्रोफेशनल की आज सख्त जरूरत महसूस की जा रही है, उनमें Net Programmers (नेट प्रोग्रामर), वर्कफ्लो इंटीग्रेशन स्पेशलिस्ट, विंडो सिस्टम इंजीनियर, जावा सॉफ्टवेयर डेवलपर, सीनियर जावा एप्लीकेशन डेवलपर, वेब फोकस डेवलपर, आरएमए टेक्नीशियन, आदि प्रमुख हैं।

आईटी क्षेत्र प्रतिभाशाली युवाओं की पहली पसंद

आनेवाले समय में इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी ( Career in Information Technology ) का भविष्य सुखद है। सैलरी का बेहतर पैकेज और नई चीजें सीखने की वजह से प्रतिभाशाली युवा इस ट्रेड को पहली वरीयता दे रहे हैं।

हालांकि आने वाले समय में इंटरनेशनल स्तर पर प्रतिस्पर्धा बढेगी और नौकरियों (Jobs) के लिए कडा मुकाबला होगा। फिर भी सूचना प्रौद्योगिकी (Information Technology) के वर्तमान और निकट भविष्य देखकर यह कहना सुरक्षित होगा कि कम से कम 10 वर्ष तक यह क्षेत्र युवाओं की पहली पसंद बना रहेगा।

जरूरी स्किल्स IT Sector के लिए  

यही आप IT Sectors में अपना करीर बनने की सोच रहे है तो सबसे पहले इस क्षेत्र में रुचि होना जरूरी है। मैथमैटिक्स अच्छी होने के साथ लॉजिकल होना आवश्यक है। इसके अलावा Communication Skills के साथ प्रेजेंटेशन बढिया होना चाहिए। यदि अंग्रेजी भाषा पर पकड है, तो इस फील्ड में शिखर तक की सफलता दिला सकती है।

Why IT Sector is The First Choise of Students

Why IT Sector is The First Choise of Students: Information Technology (IT) से संबंधित जॉब्स वातानुकूलित कमरे में होता है और नौकरियां भी काफी हैं। अन्य ट्रेडों की तुलना में देश के अलावा विदेशों में भी अच्छा वेतन मिलता है। इस फील्ड की इतनी सारी खूबियां आईटी को प्रथम वरीयता क्रम में शामिल करती हैं।

IT Sectors के उभरते सेक्टर

IT Sectors के उभरते सेक्टर – आईटी इस समय जॉब के लिहाज से पारस पत्थर की तरह हो गया है। जिस क्षेत्र में इसकी पहुंच बढ रही है, वहां क्रांतिकारी प्रगति (Revolutionary Progress) हो रही है। यह फील्ड अकाउंटिग, केपीओ,  लीगल आउटसोर्सिग तक अपना दायरा बढा चुका है।

कम्युनिकेशन और कम्प्यूटिंग को आईटी का भविष्य कह सकते हैं। मोबाइल और वर्तमान में आप जो भी देख रहे हैं, इससे भी इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सुदृढ होने वाली है। इंफॉर्मेंशन टेक्नोलॉजी जितनी सुदृढ हुई है।

आईटी के प्रमुख क्षेत्र

आईटी प्रोफेशनल्स (IT Professionals) की सभी क्षेत्रों में काफी मांग है, क्योंकि सभी क्षेत्र सूचना तकनीक (Information Technology) से जुडना चाहते हैं।आईटी के प्रमुख और महत्वपूर्ण क्षेत्र हैं निम्नलिखित हैं

सॉफ्टवेयर (Software)

सॉफ्टवेयर (Software)- भारत देश से सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री व आईटी एक दूसरे के पर्याय माने जाते हैं। असल में कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर क्षेत्र में कार्यरत कंपनियों का मुख्य काम पूरी दुनिया में फैले अपने Clients के लिए अलग-अलग तरह के सॉफ्टवेयर विकसित करना व उन्हें अमल में लाना होता है।

अलग-अलग सेक्टर्स में काम करने के लिए तरह तरह के सॉफ्टवेयर्स की जरूरत पडती है। बैंक, मीडिया, इंश्योरेंस, टेलीकॉम, हॉस्पिटेलिटी,  एजूकेशन, रेलवे, मनोरंजन,  सिक्योरटी जैसे तमाम क्षेत्र हैं, जहां हमेशा अलग-अलग व अद्यतन सॉफ्टवेयर्स की जरूरत पडती है। ऐसे में इस क्षेत्र में ली गई इंट्री आपके लिए वरदान बन सकती है।

आईटी हार्डवेयर (IT Hardware)

आईटी Hardware उन सभी चीजों को कहते है, जिन्हें आप देख सकते हैं, जिसका हम Physical इस्तेमाल कर सकते हैं, हार्डवेयर में आती हैं। आईटी क्षेत्र में डेस्कटॉप, Laptop, स्टोरेज डिवाइस, Networking डिवाइस,  LCD आदि चीजे शामिल हैं।

हांलाकि  इस फील्ड में अभी काम की ज्यादा संभावनाएं घरेलू मार्केट (Domestic Market) में ही है, फिर भी इस क्षेत्र की तेज ग्रोथ आज नए अवसर सामने ला रही है।

IT बिजनेस प्रोसेसिंग आउटसोर्सिग

IT Business Processing Outsourcing : इस समय दुनिया की कई जानी मानी कंपनियां अपने बढी जरूरतों व काम को पूरा करने के लिए इन्हें दूसरी कंपनियों को स्थांनांतरित कर देती है। जिसके कई फायदे हैं।

एक तो मूल कंपनी की मार्केट वैल्यू व भरोसा लोगों के बीच कायम रहता है। दूसरा, लोगों को इनके इन डिमांड के चलते रोजगार के अवसर भी मिलते हैं। आज यह फील्ड अकाउंटिग, केपीओ,  लीगल  आउटसोर्सिग तक अपना दायरा बढा चुकी है।

ट्रांसलेशन, कंटैंट राइटिंग जैसे उभरते हुए क्षेत्र इस क्षेत्र को और भी व्यापक बनाते हैं। आज आईटी से जुडी 350+ से ज्यादा कंपनियां व्यावसायिक जगत कदम रख चुकी हैं। वही दो लाख से ज्यादा लोगों को यहां सीधा रोजगार मिला हुआ है। इस सेक्टर की इससे भी बडी खासियत इसका जॉब उत्पन्न करने की प्रकृति  है।

IT Sector में ट्रेनर भी बन सकते हैं  

Information Technology (IT) Sectors से जब आप पढ़ाई पूरी करते है तो आप IT Sector में ट्रेनर की भूमिका निभा सकते है यह ट्रेनर आईटी सेक्टर में जाने लायक बनाने के लिए उपयुक्त ट्रेनिंग देने का काम करता है।

इसमें कई कंपनियां भी शामिल हैं, जो जावा, ओरेकल जैसे ट्रेनिंग कोर्स उपलब्ध कराती हैं। हाल ही में कुछ आईटी कंपनियों ने स्कूल कॉलेजों में भी अपने ये ट्रेनिंग प्रोग्राम (Training Programme) शुरू किए हैं। पढने-पढाने वालों के लिए यह सेक्टर काफी बेहतर विकल्प बन सकता है।

Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Newest
Oldest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
trackback

[…] Career in IT Sectors […]