BAMS Course Kaise Kare । BAMS कोर्स क्या है?, Fees, Salary, Career Options

BAMS Course Kaise Kare । BAMS Course Details in Hindi: अगर आपका सपना डॉक्टर (Doctor) बनकर रोगियों की सेवा करना और चिकित्सा के क्षेत्र में कैरियर बनाना है। तो आपके लिए आयुर्वेद का डॉक्टर (Doctor) बनना एक अच्छा विकल्प है।

Ayurved (आयुर्वेद) का डॉक्टर (Doctor) बनने के लिए आपको बीएएमएस (BAMS) यानी बैचलर ऑफ आयुर्वेदिक मैडिसिन एंड सर्जरी (Full Form- Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery) कोर्स करना होता है।

बीएएमएस (BAMS) कोर्स 5 वर्ष 6 माह का होता है, जिसमें 4 वर्ष 6 माह किसी मान्यताप्राप्त आयुर्वेदिक कॉलेज में पढ़ाई करनी होती है इसके बाद एक वर्ष किसी मान्यताप्राप्त आयुर्वेदिक कॉलेज में इंटर्नशिप करनी होती है।

इंटर्नशिप करने के बाद आपको राष्ट्रीय भारतीय चिकित्सा आयोग (NCISM) के नेशनल रजिस्टर या अपने राज्य की भारतीय चिकित्सा परिषद के राज्य रजिस्टर में रजिस्ट्रेशन कराना होता है। रजिस्ट्रेशन कराने के बाद, आप सरकारी या निजी आयुर्वेदिक अस्पताल में नौकरी कर सकते हैं या अपना स्वयं का क्लीनिक खोलकर प्रैक्टिस कर सकते हैं।

तो आइये, आज इसी विषय पर चर्चा करते हैं कि बीएएमएस (BAMS) कोर्स करने के लिए आपको क्या-क्या करना होता है, बीएएमएस (BAMS) कोर्स की फीस कितनी है, बीएएमएस (BAMS) कोर्स करने के बाद आपके लिए कैरियर के कौन-कौन से दरवाजे खुलते हैं, इसके अलावा और भी बहुत सी चीजों पर चर्चा करेंगे।

Some tag

< BAMS Course Kaise Kare, BAMS Course Kaise Kare in Hindi, BAMS Course me banaye career, BAMS Course mein banaye career in Hindi, BAMS course kya hai?, BAMS Course Kaise Kare, BAMS Course fees, BAMS Course career scope, Top BAMS College in india, BAMS course details, BAMS Course Kaise Kare, >

BAMS Course Details in Hindi: Highlights

S. N.Highlights PointsDetails
1.Course NameBAMS
2.Full-FormBachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery
3.Education QualificationPassed 12th with a minimum aggregate of 50% and PCB as Compulsory Subjects
4.Duration of Course5 years
5.Level of Course Under Graduate Course
6.Course FeesINR 20,000 to INR 2,00,000 (depend your institute)
7.Admission ProcessBy Entrance Exam Based or Merit Based
8.Top Entrance ExamNEET
KEAM
BVP CET
IPU CET, etc
9.BAMS Average SalaryINR 2,00,000 – 15,00,000
10.BAMS Examination TypeAnnual
11.Career ScopePrivate & Government
12.BAMS Job fieldsGovernment Hospitals
Private Hospitals
Pharmaceutical Industries
Healthcare Community
Clinics
Teaching
13.Home Click Here
BAMS Course Kaise Kare

BAMS Course Kaise Kare । BAMS कोर्स क्या है?, Fees, Salary, Career Scope

BAMS Course Kaise Kare
BAMS Course Kaise Kare

BAMS कोर्स क्या है? (What is BAMS Course?): BAMS (Bachelor of Medician and Bachelor of Surgery) आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति का एक बैचलर डिग्री कोर्स (Bachelor Degree) होता है।

यह कोर्स 5 वर्ष (5 years) का होता है। इसमें 4 साल की आपकी क्लास रहती है तथा 1 साल की इंटर्नशिप रहती है इस कोर्स के बाद आप आयुर्वेदिक डॉक्टर या आयुष डॉक्टर बन सकते हैं।

इस कोर्स में शरीर की रचना, शरीर की क्रिया विज्ञान, विश्व विज्ञान, फॉर्मेलॉजी, रोग से निदान एवं बचाव, नाक, कान, गले आदि की चिकित्सा शामिल रहती है।

BAMS Course को करने के लिए Candidate के पास Minimum Education Qualification 10+2 के साथ फिजिक्स, केमिस्ट्री, और बायोलॉजी में 50% अंको के साथ उत्तीर्ण होने चाहिए।

बीएएमएस (BAMS) कोर्स के लिए क्या है जरूरी योग्यता । BAMS Course Eligibility

BAMS Course Eligibility in Hindi: यदि आपका सपना डॉक्टर (Doctor) बनकर रोगियों की सेवा करना और चिकित्सा के क्षेत्र में कैरियर बनाना है, और आपने आयुर्वेद का डॉक्टर (Doctor) बनना तय कर लिया है,

तो इसके लिए आपको राष्ट्रीय भारतीय चिकित्सा आयोग (NCISM) आयोग द्वारा साल में एक बार आयोजित की जाने वाली नीट (NEET) यानी नेशनल एलिजिबिलिटी एंटरेंस टेस्ट (National Eligibility Entrance Test) नामक परीक्षा पास करनी होती है।

NEET परीक्षा में शामिल होने के लिए आपको 12वीं कक्षा फिजिक्स (Physics), केमेस्ट्री (Chemistry) और बायोलॉजी (Biology) विषयों के साथ, कम से कम 50% अंकों के साथ पास करना जरूरी होता है।

साथ ही, आपकी आयु 17-25 वर्ष के बीच में होना आवश्यक है। चूंकि नीट (NEET) परीक्षा एक कठिन परीक्षा मानी जाती है इसलिए इसमें सफलता हासिल करने के लिए आपको 10 कक्षा के साथ ही नीट की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए।

Full-Form

S. NoShort FormFull-Form
1BAMS The Full-Form of BAMS is The Bachelor of Ayurveda, Medicine, and Surgery (बैचलर ऑफ आयुर्वेदिक मैडिसिन एंड सर्जरी)
2NEETThe Full-Form of NEET is the National Eligibility cum Entrance Test (राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा)
3NCISMThe Full-Form of NCISM is The National Commission for Indian System of Medicine (राष्ट्रीय भारतीय चिकित्सा पद्धति आयोग विधेयक)

क्या पढ़ना होता है बीएएमएस (BAMS) कोर्स मेंSyllabus

BAMS Course Syllabus: चूंकि बीएएमएस (BAMS) कोर्स आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति का बैचलर डिग्री कोर्स होता है इसलिए इस कोर्स की पढ़ाई के दौरान आपको शरीर क्रिया विज्ञान (Phyisology), शरीर रचना विज्ञान (Anatomy), विष विज्ञान (Venome Science), फार्माकोलोजी (Pharmacology), रोग निदान एवं विकृति विज्ञान (Diagnostic Procedure and Pathology) आदि विषयों की शिक्षा दी जाती है।

कितनी फीस होती है बीएएमएस (BAMS) कोर्स मेंCourse Fees

भारत सहित कई देशों में बीएएमएस (BAMS) कोर्स की पढ़ाई की जा सकती है। भारत में बीएएमएस (BAMS) कोर्स के अनेक सरकारी एवं प्राइवेट मान्यता प्राप्त आयुर्वेदिक कॉलेज हैं जिनकी फीस 15 हजार सालाना से लेकर 10 लाख सालाना तक होती है।

चूंकि सरकारी कॉलेजों को सरकार द्वारा अनुदान (Scholarship) मिलता है इसलिए उनमें फीस बहुत कम होती है। सरकारी कॉलेज में दाखिला लेने के लिए आपको नीट (NEET) परीक्षा में ऊंची मेरिट लाना आवश्यक होता है।

वैसे कुछ प्राइवेट कॉलेज ऐसे भी हैं जिनकी फीस सरकारी कालेजों से बहुत अधिक नहीं है। नीट (NEET) परीक्षा की मेरिट के आधार पर ही काउंसिलिंग के दौरान आपको कॉलेज आवंटित किया जाता है।

बीएएमएस (BAMS) कोर्स के बाद क्या है कैरियर का स्कोप Career Scope

अगर बीएएमएस (Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery) कोर्स के बाद कैरियर के स्कोप की बात की जाए तो इसके लिए आपके पास बहुत से विकल्प होते हैं। आप आयुर्वेद के किसी क्षेत्र में विशेष योग्यता हासिल करने के लिए एमडी (MD) कर सकते हैं।

इसके अलावा आपको सरकारी या प्राइवेट आयुर्वेदिक कॉलेज में जॉब (job) मिल सकता है। इसके अलावा आप अपना प्राइवेट क्लीनिक भी खोल सकते हैं। इसके अलावा आयुर्वेद फार्मास्युटिकल कंपनियों के लिए भी अपने उत्पादन विभाग में बीएएमएस (BAMS) डॉक्टर की नियुक्ति अनिवार्य है।

तथा कुछ आयुर्वेद फार्मास्युटिकल कंपनियां अपनी मार्केटिंग (Marketing) टीम के लिए भी बीएएमएस (Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery) डॉक्टर की नियुक्ति करती हैं।

वर्तमान में सरकार जिस तरह से भारतीय चिकित्सा पद्धतियों को बढ़ावा दे रही है और कोरोना महामारी के दौरान लोगों की रुचि आयुर्वेद में बढ़ती हुई देखी गई है, उससे आने वाले समय में देश और विदेश में बीएएमएस (BAMS) डॉक्टर की मांग बहुत बढ़ रही है। आने वाला समय आयुर्वेद चिकित्सा का ही है।

बीएएमएस (BAMS) कोर्स के बाद क्या है

BAMS Course Kaise Kare: सरकारी और निजी अस्पतालों में एक बीएएमएस (BAMS) डॉक्टर का शुरुआती वेतन 30 हजार से 50 हजार तक होता है। जो समय के साथ और अनुभव होने पर बढ़ता रहता है।

इसके अलावा, कुछ साल नौकरी करके अनुभव हासिल करने के बाद, आप अपना खुद का क्लीनिक भी खोल सकते हैं जिसमें आपको लाखों रुपये महीने के भी कमाई हो सकती है। यह आप पर निर्भर करता है कि आप कितनी मेहनत करके कितना आगे तक जा पाते हैं।

Top BAMS College in India

India के टॉप बीएएमएस कॉलेज की लिस्ट यह पर हम आप सभी स्टूडेंट को बताने जा रहा हूँ इनकी जानकारी आपको जरूर होनी चाहिए। यदि आप इन कॉलेज से BAMS का Course करते है तो कोर्स पूरा करते ही आपको अच्छी जॉब्स आसानी से मिल जाती है।

  • BHU– Banaras Hindu University, Uttar Pradesh
  • Sawai Man Singh Medical College, Jaipur, Rajasthan
  • National Institute of Mental Health & Neuro Sciences, Bengaluru, Karnataka
  • Institute of Liver and Biliary Sciences, New Delhi
  • Grant Medical College, Mumbai
  • Sanjay Gandhi Postgraduate Institute of Medical Sciences
  • PSG Institute of Medical Sciences & Research, Coimbatore, Tamil Nadu
  • Jamia Hamadard University, New Delhi
  • Government Medical College & Hospital, Chandigarh
  • BMCRI – Bangalore Medical College and Research Institute, Karnataka
  • Siksha ‘O’ Anusandhan (Deemed to be University), Bhubaneswar, Odisha
  • King Edward Memorial Hospital and Seth Gordhandas Sunderdas Medical College, Mumbai, Maharashtra
  • Dr. D. Y. Patil Vidyapeeth, Pune, Maharashtra
  • IPGME&R and SSKM Hospital, Kolkata, W.B.
  • Sri Ramachandra Institute of Higher Education and Research
  • St. John’s Medical College, Karnataka
  • Cardiothoracic and Neurosciences Centre AIIMS
  • Lady Hardinge Medical College, New Delhi
  • Dayanand Medical College, Ludhiana, Panjab
  • Medical College Kolkata, West Bengal
  • Post Graduate Institute of Medical College & Research, Chandigarh
  • JSS Medical College, Karnataka
  • Armed Forces Medical College, Pune
  • AMU – Aligarh Muslim University, Aligarh, Uttar Pradesh
  • Maulana Azad Medical College, New Delhi
  • BHU – Banaras Hindu University, Uttar Pradesh
  • Sawai Man Singh Medical College, Jaipur, Rajasthan
  • National Institute of Mental Health & Neuro Sciences, Bengaluru, Karnataka
  • Institute of Liver and Biliary Sciences, New Delhi

FAQ | BAMS Course Kaise Kare

निष्कर्ष (Conclusion)

BAMS Course Kaise Kare: हमें उम्मीद है कि यह लेख आपको जरूर पसंद आया होगा। क्योंकि इस लेख में बीएएमएस (BAMS) कोर्स के सभी पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की गई है।

अगर यह लेख आपको पसंद आया है तो इसे अपने शथियों में शेयर करना न भूलें। साथ ही, यदि इस विषय में आपके मन में कोई सवाल हैं तो हमारे साथ जरूर शेयर करें, हम आपके सभी प्रश्नों के उत्तर देने की जरूर कोशिश करेंगे।

इन पोस्ट को भी पढ़ सकते है

3 thoughts on “BAMS Course Kaise Kare । BAMS कोर्स क्या है?, Fees, Salary, Career Options”

Leave a Comment